Tuesday, 30 August 2011

MAG - TOP EDITIONS, TOP TEAMS

आओ पढाएं, सबको पढाएं मुहिम के पहले चरण में बेहतर काम करने वाले साथियों का काम आपसे शेयर होता रहा है. ब्लॉग पर शहर के नाम के लेबल पर क्लिक कर आप उनके बारे में पढ सकते हैं. बच्चों के नामांकन का आंकड़ा 7000 के पार पहुच गया है...

मीडिया एक्शन ग्रुप फेसबुक के ज़रिये भी अभियान शेयर कर रहा है. हम ट्विटर पर भी जुड़ गए हैं.

अगले चरण में हम सरकारी स्कूलों को फोकस कर रहे हैं. इसमें भी ख़बरों के अभियान के साथ लोगों के ज़मीनी जुडाव, असल बदलाव, मापने योग्य पैमानों, नीतिगत दखल और नवाचार पर जोर रहेगा. अभियान की पूरी कार्ययोजना सबको पंहुचायी गयी है, सितम्बर से काम का आगाज़ होगा.

अभी तक :

डूंगरपुर के दीपक शर्मा व मिलन शर्मा ने काम  को बखूबी अंजाम दिया, खूब दाखिले करवाए, भामाशाहों से मदद करवाई, और आगे की पहल की पूरी तैयारी कर रखी है, यहाँ नामांकन खूब हुए और लोगों का सहयोग भी खूब अर्जित किया

कोटा के प्रमोद मेवाडा, बूंदी के नागेश, और झालावाड के शादाब अहमद ने खबरें और नवाचार दोनों किये, खूब नामांकन करवाए  और ऐसे इलाकों में पंहुच बने जहां सरकार की भी नज़र नहीं थी

 करौली  में सुनील जैन व टीम के दिनेश चंद शर्मा ने लगातार अभियान में ऊर्जा का संचार किया, नवाचार किये, भामाशाहों के साथ साथ प्रशासन को भी जोड़े रखा , खूब नामांकन करवाए और लोगों को जोड़े रखा

 भीलवाडा के भुवनेश पंड्या ने ख़बरों के साथ स्टे होम के लिए कवायद की और अच्छे परिणाम दिए

इंदौर की नुपुर दीक्षित ने ख़बरों के ज़रिये मुद्दे के लिए अलख जगाये रखी है, मैग की पंखुरी ने ज़मीनी काम कर अभियान में कंधे से कन्धा मिलाया है, नामाकन के मामले में मध्य प्रदेश में केवल इंदौर में ही काम हुआ

डूंगरपुर और करौली  नवाचार व ऊर्जा के लिहाज़ से लगातार आगे हैं. कोटा संस्करण ने नवाचार और ख़बरों के लिहाज़ से बेहतरीन काम किया है.

उदयपुर कौशल मूंदड़ा  ने स्कूलों को जोड़ने और नामांकन के लिए बहुत काम किया, खबरें लगातार लगीं

बीकानेर में नामांकन अभियान में पत्रिका के साथ बहुत जुडाव हुआ, खबरें भी लगातार खरी खरी लगीं.

दौसा में अजय शर्मा और टोंक में सुभाष राज की टीम ने सीटीएस की पोल खोल के साथ नामांकन का काम अच्छा किया 

बांसवाडा के वरुण भट्ट, सवाई माधोपुर में धैर्य कुमार की टीम, कुचामन सिटी के केआर मुन्दियार, जालोर के अल्लाह्बक्ष, भरतपुर में राजेश खंडेलवाल, ब्यावर में दिलीप शर्मा, किशनगढ़ में सुनील कुमार सहित और साथियों ने  बेहतरीन काम किया है. इन सभी स्थानों पर नामांकन का आंकड़ा अच्छा रहा.

जबलपुर  में प्रेम शंकर तिवारी लगातार पत्रिका कनेक्ट की हर कार्ययोजना को बेहतर अंजाम दे रहे हैं. ज़मीनी काम के लिहाज से उनका काम बेहतरीन है.

भोपाल में ख़बरों के लिहाज़ अच्छा काम होने लगा है, रायपुर में राजेश नैन की निगरानी में सरिता दुबे ने पत्रिका कनेक्ट का काम संभाला है और वहां वार्ड की ख़बरों को लेकर जागो रे नाम का विशिष्ट पृष्ठ प्रकाशित हो रहा है. शिक्षा अभियान भी अच्छा चला, आंकड़ा आना बाकी है

ग्वालियर में पत्रिका कनेक्ट का काम जोर पकड़ रहा है. अभियानों पर भी बेहतर काम हुआ है, भ्रष्टाचार की मुहिम वाकई प्रशंसनीय है.

जोधपुर में शुरू में मधु के हाथ कमान थी, पर अपडेट आनी बाकी है


अभियान के तहत हमने अभी तक 7000 से ज्यादा बच्चों का दाखिला करवाया है, जिसका पूरा लेखा जोखा हमारे पास है. पिछले काम पर निगरानी भी रखी जा रही है और बच्चों की ज़रूरतों के लिए लोगों को जोड़ने का काम भी चल रहा है.

सहयोग के लिए आभार. आगामी योजना के बारे में सभी जानकारी देते रहे.
सादर
क्षिप्रा माथुर

No comments:

Post a comment